प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना आवेदन | PM Mudra Yojana Online apply 20|मुद्रा लोन ऑनलाइन अप्लाई21

Table of Contents

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना PM Mudra Yojana

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना online।मुद्रा योजना की जानकारी। pradhanmantri mudra yojana form in hindi ।PMMY online apply।मुद्रा योजना लोन ।Mudra loan documents । PM Mudra Yojana (PMMY) 2021|प्रधानमंत्री लोन योजना ऑनलाइन फॉर्म|मुद्रा लोन ऑनलाइन अप्लाई

दिनांक – 8 अप्रैल 2015
नाम – PM Mudra Yojana (PMMY) 
शुरुआत -केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में
लक्ष्य – मेक इन इंडिया
मंत्रालय -गृह मंत्रालय
उद्देश्य -स्वरोजगार ,रोजगार देकर बेरोजगारी कम करना
नारा -फण्ड द रिफंड

मुद्रा योजना क्या है? PM Mudra Yojana kya hai? What is Mudra yojana

PMMY केंद्र सरकार द्वारा बनाई गयी योजना है जिसके अंतर्गत केंद्र सरकार लघु उद्योग शुरू करने के लिए छोटे पैमाने पर और आसानी से कारोबारियों को लोन देती है, ताकि वो सभी अपना कोई छोटा सा उद्योग शुरू कर सके। 
सरकार ने लोन देने के तीन पैमाने रखे है जिसके अंदर सभी कारोबारियों को 3  तरह के लोन प्रदान करता है। कारोबारी अपने हिसाब से उस लोन का चुनाव करता है ,जिस कारोबार के लिए उस लोन की जरूरत है।
  • शिशु मुद्रा –शिशु मुद्रा में कारोबारियों को 50000 रुपए तक का लोन देते है।
  • किशोर मुद्रा –किशोर मुद्रा में कारोबारियों को 50000 से 5 लाख तक के लोन दिए जाते है।
  • तरुण मुद्रा –तरुण मुद्रा म कारोबारियों को 5 लाख से 10 लाख तक की राशि लोन के रूप में प्रदान करने का प्रावधान बनाया गया है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना शुरू करने  के मुख्या दो कारण है

  1. स्वरोजगार
  2. रोजगार

1. स्वरोजगार – अपना रोजगार शुरू करने  के लिए केंद्र सरकार लोगो को बड़ी आसानी से लोन प्रदान कर रही है। सरकार द्वारा लिया गया ये सकरात्मक निर्णय लेने का सबसे बड़ा कारण है सरकार भारत को आत्म निर्भर बनाना चाहती है। सभी अपना रोजगार करेंगे और  किसी न किसी वस्तु का उत्पादन करेंगे जिससे हमे वो समान किसी और से वस्तु क्रय करने की जरूरत नहीं होगी। जिससे हमारे देश में ही वो सभी वस्तुएं बहुत ही आसानी से उपलब्ध होंगी, फलस्वरूप उन वस्तुओ की कीमत भी कम होंगी।

इसके अलावा सभी के पास अपना काम होगा तो उनकी और उनके साथ साथ देश की आर्थिक स्थिति  में भी तरक्की होगी ,जिससे हमारा देश वृद्धि करेगा। 

2. रोजगार – भारत जैसे विकासशील देश में जहाँ अभी देश पूर्ण रूप से विकसित नहीं है ,विकास की राह पर है जिससे रोज़गार में भी सम्भावनाये धीरे धीरे प्रगति कर रही है । भारत में बेरोजगारी की समस्या बहुत की एक बहुत बड़ी वजह ये है कि यहाँ  पर काम करने वाले तो बहुत है पर काम देने वाले बहुत कम। इस समस्या को खत्म करने के लिए PM Mudra Yojana बहुत ही लाभदायक योजना  है।

इससे  जब सभी अपने अपने काम को शुरू करेंगे तो सभी को अपने उद्योग में काम करने वालो की भी जरूरत होगी। जिसके लिए उन्हें अपने उद्योग में रोजगार के द्वार भी खोलने होंगे।

परिणामस्वरूप भारत देश में काफी बड़ी मात्रा में लोग उद्योग शुरू करेंगे तो बाकी के लोगो को भी रोजगार मिलेगा। जिससे हमारे देश की सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी भी खत्म होने की राह पर होगी,और हमारे देश में रोजगार में वृद्धि होगी। 

 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना क्या है? PM Mudra Yojana Scheme?

इस योजना का नाम सुनते ही सबसे पहले ये ख्याल आता है कि इस योजना में ख़ास क्या है? कैसे काम करती है ये योजना ?क्या सबको इसका लाभ मिलेगा ? 
 
यह योजना केंद्र सरकार में गृह मंत्रालय के द्वारा शुरू की गयी एक योजना है। इस योजना से सरकार सभी जरूरतमंद कारोबारियों को उचित लोन देने का प्रयास करता है। इस योजना से सरकार सभी को स्वरोजगार चलाने के लिए प्रेरित करती है ,इसके साथ साथ केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी मुहिम मेक इन इंडिया (Make in India) को भी हवा देती है।
इस योजना को शुरू करने से सीधा सीधा सरकार अपने देश में ही रोजगार पैदा करके देश को विकास की गति में वृद्धि करना चाहती है।
 
PM Mudra Yojana  में पहले अक्सर ऐसा  होता था की लोन लेने के लिए काफी वक़्त लगता था, और डाक्यूमेंट्स से सम्बंधित काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था । इस समस्या  को सरकार ने खत्म करने की कोशिश की है। इस योजना से सरकार सभी कारोबारियों को वक़्त पर ही उन्हें लोन देने की कोशिश करती है।
 
यह योजना सिर्फ कारोबारियों के लिए ही है, PM Mudra Yojana का लाभ केवल कारोबारी ही उठा सकते है। सरकार हमारे देश में उद्योगों की गिनती में वृद्धि करना चाहती है जिस कारण सरकार ये योजना लेकर आयी है।
 

PMMY मुद्रा लोन कितने प्रकार के होते हैं? – Types of Mudra Loans?

इस योजना 3 तरह के लोन आवेदकों को देती है –
 
1. शिशु लोन -इस योजना में शिशु लोन है इसमें आवेदकों को 50000 रुपए तक की राशि बैंक लोन के रूप में प्रदान करते है, इस लोन के लिए मुख्यतः वे लोग आवेदन करते है जिनका कारोबार बहुत छोटा है, और उससे वो थोड़े छोटे पैमाने में ही वृद्धि करना चाहते है।  यह लोन जल्दी से आवेदकों को आसानी से मिल भी जाता है।
 
 
2. किशोर लोन – इस योजना में किशोर लोन के लिए आवेदकों को 50 ,000 से लेकर 5 लाख तक की राशि को कर्ज के रूप में देने का प्रावधान बनाया गया है। इसमें ज्यादातर वे व्यापारी लोन लेते है जिनका पहले से ही कारोबार अच्छा ख़ासा जमा हुआ है, और उन्हें होने वाले कारोबार में और भी वृद्धि करनी हो, उनके लिए ये लोन दिया जाता है।
 
 
3. तरुण लोन – इस योजना में तरुण लोन में सबसे बड़ी राशि का लोन प्रदान किया जाता है, इस लोन के अंतर्गत आवेदक बैंक से 5 लाख से 10 लाख तक की राशि के लिए आवेदन कर सकता है। तरुण लोन में अधिकतर बड़े व्यापारी आवेदन भेजते है, जिन्हे अपने कारोबार के लिए किसी भी प्रकार से राशि की जरूरत हो वो सभी कारोबारी इस योजना में आसानी से आवेदन करके लोन प्राप्त कर सकते है।
 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में आवेदन 2021 – PM Mudra Yojana Apply

 
 योजना में आवेदन करने के लिए आवेदकों को बैंको द्वारा जारी किया गया अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लिए आवेदन करना होगा सरकार ने बैंको के आलावा भी कई संस्थाओ को इस योजना से जोड़ा है [जिनके नाम  की जानकारी आप आगे पढ़ेंगे ] जो आवेदकों को लोन देता है।
 बैंक में लोन की अर्जी देने के लिए बैंक के अधिकारिक वेबसाइट (Mudra Yojana) में जाकर वहां से आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते है।
 

 

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना ऑनलाइन आवेदन? Mudra loan online apply

MUDRA-Loan-Application-Form

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले बैंक की वेबसाइट से फॉर्म को डाउनलोड करले। 
  • पूछी गई सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़कर ,उस फॉर्म में सही सही जानकारी दे। 
  • आवेदन पत्र के साथ मांगे गए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को जोड़े। 
  • कोई भी ऐसी संस्था या बैंक जो प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के साथ जुड़ा हुआ हो उसमे जाकर अपने फॉर्म को जमा करवाएं। 
  • इसके बाद बैंक अपने हिसाब से आपके दस्तावेजों की जांच करके अपनी प्रक्रिया को पूरा करेगा। 
  • सभी दस्तावेज और दी हुई जानकारियों सही होने पर बैंक आपका लोन पास कर देगा। 

उद्देश्य-Purpose of Mudra Scheme

इस योजना के दो  सबसे मुख्य उद्देश्य है   –

  • स्वरोजगार  Self employment 
  • रोजगार पैदा करना Generate employment
स्वरोजगार- PMMY का सबसे मुख्य  उद्देश्य है स्वरोजगार।

मुद्रा योजना में इत्ते आसानी से इसलिए ही लोन प्राप्त हो जाता है ,क्यों की सरकार हमारे देश में स्वरोजगार बढ़ाना चाहती है। सरकार चाहती है की हमारे देश में ऐसे ही छोटे छोटे रोजगारो में वृद्धि हो ताकि हमारा देश विकास की राह पर आगे बढ़े।

जो वस्तुएं अभी हमारे देश में नहीं बनाई जाती या उन्हें बढ़ावा देने के लिए हमारे पास पर्याप्त साधन नहीं है, परिणामस्वरूप हमें बाहरी विदेशी वस्तुवों पर निर्भर रहना पड़ता है । अतः इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही की भारतीय कारोबार को बढ़ावा मिले और जो वस्तुएं हमे बाहर से आयत करवाना पड़ता था, उसको अब हम अपने देश के अंदर ही निर्मित सकें। ऐसा करने से सभी को वस्तुएं कम रुपए में मिल जाएगी और हमे बाहर के देशो से वो चीज़े आयत करवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
 
रोजगार पैदा करना –PM Mudra Yojana इस योजना का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य है- रोजगार पैदा करनाअगर सरकार सभी कारोबारियों को लोन प्रदान करेगी तो ये उस राशि का उपयोग किसी कारोबार में लगाएंगे और अगर कारोबार बढ़े तो उन सभी कारोबारियों को मानव संसाधन की जरूरत भारी मात्रा में पड़ेगी।
 
फ़लस्वरूप  वो सभी अपने कारोबार के लिए लोगो की नियुक्ति करेंगे। इससे हमारे देश में रोजगार के द्वार खुल जायेंगे, और बेरोजगारी धीरे -धीरे खत्म हो जाएगी, जोकि हमारे देश की एक बहुत बड़ी समस्याओ में से एक है। इस योजना की शुरुआत करने का केंद्र सरकार का सबसे मुख्य उद्देश्य यही था।
 

मुद्रा योजना के लाभ -Benefits of Mudra scheme

  • सभी छोटे से बड़े कारोबारियों को आसानी से लोन मिल जायेगा। 
  • मुद्रा लोन लेने के लिए आवेदकों को  कोई भी पैसे नहीं देने पड़ते।
  • बिना किसी गारंटी के ये लोन प्राप्त हो जाता है। 
  • लोन  का कोई न्यूनतम राशि तय नहीं की गयी है। 
  • कोई भी व्यापार करने वाला व्यापारी इसका लाभ ले सकती है। 
 

मुद्रा लोन के लाभार्थी -Beneficiaries of Mudra loan

PMMY के लाभार्थी कौन- कौन से है ? 

  • दुकानदार जो किसी वस्तु का व्यापार करते हो 
  • टिफिन सेवा देने वाले 
  • रेस्टोरेंट 
  • फ़ूड स्टाल 
  • हस्त निर्मित वस्तुएं 
  • छोटी -छोटी चीज़ो का निर्माण करके बेचने वाले 
  • कपडा उद्योग के व्यापारी 
  • डेरी फार्म 
  • छोटे उद्योगपति 
  • वो व्यक्ति जो कोई न्या  कारोबार शुरू करना चाहते हो 

 मुद्रा योजना में लोन देने वाली संस्थाए 

  • सभी सरकारी बैंक (Government banks)
  • माइक्रो फाइनेंस संस्थाए (Micro finance bank)
  • स्माल फाइनेंस बैंक (Small finance bank)
  • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक (Regional rural bank)
  • प्राइवेट सेक्टर बैंक (Private sector bank )
  • पब्लिक सेक्टर बैंक (Public sector bank)

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में कितनी राशि की लोन देने का प्रावधान है?

इस योजना में कोई भी न्यूनतम राशि तय नहीं की है सभी कारोबारी को अपनी स्वेछा से जितनी राशि लेनी है वो ले सकते है। परन्तु सरकार ने मुद्रा योजना के अंतर्गत अधिकतम राशि तय की हुई है। इस योजना के तहत सरकार सभी कारोबारियों को 10 लाख तक की राशि ही प्रदान कर सकती है।
अर्थात सरकार ने कारोबारी को देने वाली रही न्यूनतम राशि कोई भी तय नहीं की कारोबारी छोटी से छोटी राशि के लिए भी आवेदन भेज सकते है। परन्तु सरकार ने इस योजना के तहत अधिकतम राशि तय कर दी है कोई भी कारोबारी इस योजना से 10 लाख से ज्यादा राशि के लिए आवेदन नहीं कर  सकता। 
 

योजना में कितने समय में लोन की किश्तें देनी होती है ? PMMY Loan installments

इस योजना में सरकार ने लोन की किश्तों को चुकाने की एक समय निश्चित कर  दिया है। कारोबार करने में अकसर घाटा में जाने जैसी सम्भावनाये होती है, फलस्वरूप काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। यद्दपि कोई भी काम शीघ्र लाभ देने लगे यह संभव भी नहीं है, व्यवसाय को जमने में वक़्त लगता है। अतः सरकार इन  सभी बातों को ध्यान में रखकर इस लोन के भुगतान का अधिकतम समय 5 साल का रखा है ,और अगर फिर भी राशि के पैसे जमा नहीं हो पाते तो आवेदक इसे और 5 साल बढ़ा सकता है। 
 

योजना में लोन लेने के लिए लगने वाले मुख्य दस्तावेज Important documents

  • भारतीय नागरिकता होने का प्रमाणपत्र (आधार कार्ड ,वोटर कार्ड ,लाइसेंस ,पासपोर्ट )
  • पते का सबूत Address Proof (बिजली का बिल ,पानी का बिल ,टेलीफोन बिल ,कोई भी ऐसा दस्तावेज जिसमे आवेदक के नाम के साथ साथ एड्रेस भी दिया गया हो )
  • पासपोर्ट साइज फोटो 
  • पहले से कोई कारोबार कर रहे हो तो उसका कोई दस्तावेज 
  • बैंक पासबुक की फोटोकॉपी 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में लगने वाला ब्याज दर -Mudra yojana rate of interest

मुद्रा योजना में लगने वाला ब्याज दर पूर्णतः व्यवसाय पर ही केंद्रित होता है, सभी व्यवसाय में अलग अलग खतरे होते है। जिसको ध्यान में रखकर ही बैंक ब्याज दर बताता है।
 
सभी बैंको की ब्याज दर अलग अलग होती है सभी बैंक अपने हिसाब से ही ब्याज की दर तय करती है, पर सभी बैंक अपनी ब्याज दर 12 प्रतिशत के आस पास ही रखता है।
 

नोट : अगर कोई कारोबारी PM Mudra Yojana के तहत लोन लेता है तो उसके ब्याज दर हमेशा एक ही रहेगी। जैसे अगर हमने जिस बैंक से लोन लिया उसकी ब्याज दर 10 प्रतिशत है, किन्तु उस बैंक ने आगे चल कर अपने बैंक की ब्याज दर में वृद्धि दो प्रतिशत से कर दी  तो भी मुद्रा योजना के आवेदक को केवल 10 प्रतिशत के दर पर ही ब्याज देना होगा। 

तत्कालीन केंद्र सरकार में वित्तीय मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी ने अब यह एलान किया है की मुद्रा योजना में आवेदन करने वाले सभी कारोबारियों की ब्याज दर में से 2 प्रतिशत ब्याज दर अब सरकार द्वारा भरा जायेगा। 
 
 

मुद्रा योजना की विशेषताएं -Features of Mudra Scheme

  • बिना किसी गारंटी के कारोबारी को लोन प्रदान किया जाता है।
  • बाकी के लोन के मुकाबले यह जल्दी ही पास कर  दिया जाता है।
  • मुद्रा योजना में महिलाये अधिक मात्रा में आवेदन कर  रही है।
  • मुद्रा योजना में किसी भी तरह की प्रोसेसिंग फीस नहीं ली जाती।

महिलाओं के लिए मुद्रा योजना -PM Mudra Yojana Scheme for women

PM Mudra योजना में छोटे छोटे व्यवसायें के लिए छोटे छोटे कारोबारी से लेकर जो अभी कारोबार शुरू करने वाले है वो भी अपनी अधिक रूचि दिखा रहे है। इसमें ख़ास बात यह है की पुरुषो के मुकाबले महिलाएं इस योजना में अधिक रूचि दिखा रही है, और अधिक से अधिक इस योजना के लिए आवेदन कर रही है इससे एक बात और निकलती है की इस योजना से महिलाओ को भी ख़ासा फायदा हुआ है ,और भारत की महिलाएं भी अब कारोबार करने में रूचि प्रस्तुत कर  रही है। इससे महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा मिल रहा है।
यूनाइटेड महिला उद्यम भी  मुद्रा योजना के साथ जुड़ा  है।  इससे देश की महिलाये आसानी से लोन ले सकती है।
 

संबंधित सवाल

1. प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

इसके लिए इस योजना के तहत लिस्टेड बैंको के आधिकारिक वेबसाइट से मुद्रा लोन फॉर्म डाउनलोड कर सकते है. फॉर्म को सही पूर्वक भरकर अपने नजदीकी बैंक में जाकर अपने बिज़नस प्लान को बताकर लोनके लिए अप्लाई कर दे.

2. मुद्रा योजना किस मंत्रालय के तहत आता है?

मुद्रा योजना गृह मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

3. प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना हेल्पलाइन नंबर  क्या है?

मुद्रा योजना से जुडी जानकारी के लिए सरकार द्वारा 2 टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर जारी किये गए हैं।आवेदक 24×7  इन नम्बरों पर डायल कर सम्पूर्ण जानकारी ले सकता है।
18001801111
1800110001

4. MUDRA कार्ड क्या है?

मुद्रा कार्ड एक ऐसा कार्ड है जो नकद ऋण सेवाएं प्रदान करता है और ओवरड्राफ्ट के लिए छोटे व्यवसाय के मालिकों द्वारा भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल एक डेबिट कार्ड की तरह भी किया जाता है।

5. क्या महिलाओं के लिए कोई विशेष मुद्रा लोन योजना है?

यूनाइटेड महिला उद्यम संस्था PM मुद्रा योजना के साथ अपना सहयोग देती है जिससे की महिलाएं भी स्वरोजगार एवं रोजगार कर सकें।

6. मुद्रा (MUDRA) योजना का full form क्या है?

Micro Units Development and Refinance Agency (MUDRA)

7. मुद्रा लोन पर कितना ब्याज है?

मुद्रा योजना में लगने वाला ब्याज दर पूर्णतः आवेदक के बिज़नस पर ही केंद्रित होता है, अतः व्यवसाय में अलग-अलग खतरे होते है। जिसको ध्यान में रखकर ही बैंक ब्याज दर बताता है।
 सभी बैंको की ब्याज दर अलग-अलग होती है। सभी बैंक अपने हिसाब से ही ब्याज की दर तय करती है, पर सभी बैंक अपनी ब्याज दर 12 प्रतिशत के आस पास ही रखता है।

8. मुद्रा लोन के लिए क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?

भारतीय निवासी होने का प्रमाणिकता(आधार कार्ड,वोटर कार्ड, पैन कार्ड)
कोई कारोबार कर रहे हो तो उसका कोई दस्तावेज 
निवास प्रमाण पत्र
बैंक डिटेल्स की फोटोकॉपी
पासपोर्ट साइज़ फोटो

9. मुद्रा लोन कौन कौन सी बैंक देती है?

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया , इलाहाबाद बैंक, HDFC बैंक, बैंक ऑफ़ बड़ोदा, फेडरल बैंक, बैंक ऑफ़ इंडिया, पंजाब एंड सिड बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, सारस्वत बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, पंजाब नेशनल बैंक, ICICI बैंक, यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया, एक्सिस बैंक, आंध्रा बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, कारपोरेशन बैंक, UCO बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया इत्यादी

10.मुद्रा लोन कितने प्रकार के होते हैं?

शिशु लोन– 50000 तक का व्यवसाय लोन
किशोर लोन – 50,000 से 5 लाख तक व्यवसाय लोन
तरुण लोन – 5 लाख से 10 लाख तक का व्यवसाय लोन

 

2 thoughts on “प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना आवेदन | PM Mudra Yojana Online apply 20|मुद्रा लोन ऑनलाइन अप्लाई21”

Leave a Comment