प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 PM Fasal Bima Yojana Apply Online

Table of Contents

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: PM Fasal Bima Yojana

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन फॉर्म | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in hindi | Apply Online Fasal Bima Yojana 2021 |Fasal Bima Yojana Form Download | फसल बीमा राशि । PMFBY

(PM Fasal Bima Yojana) प्रधानमंत्री फसल बीमा  योजना भारत की केंद्र सरकार द्वारा बनाई गयी योजना है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के द्वारा भारत सरकार फसल के खराब या बर्बाद होने पर अथवा होने वाले घाटे से किसानो को बचाने के लिए भारत सरकार ने ये योजना बनाई है। इस योजना के तहत किसानो को भारत सरकार खरीफ़ फसल के लिए 2 फ़ीसदी  और रबी फसल के लिए 1.5 फ़ीसदी  प्रीमियम का भुगतान करना होता है, और बाकी के प्रीमियम की राशि सरकार द्वारा भरी जाती है।

जबकि वार्षिक वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के मामले में प्रीमियम केवल 5 फ़ीसदी होगा।

नाम – प्रधानमंत्री फसल बीमा  योजना (PM Fasal Bima Yojana)
दिनांक – 13 जनवरी 2016
शुरुआत– भारत की केंद्र सरकार में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी
कारण – किसान को होने वाली हानि को कम करने हेतु
लक्ष्य– खेती को बढ़ावा देना
मंत्रालय– कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है? What is PM Fasal Bima Yojana?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना भारत की केंद्र सरकार में कृषि और किसान  कल्याण  मंत्रालय ने देश के प्रधानमंत्री  श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में बनाया गया है। इस योजना के पीछे भारत सरकार की एक बहुत बड़ी सोच है। हमारा देश भारत एक कृषि प्रधान देश है। देश के एक बहुत बड़े हिस्से में खेती की जाती है तथा देश के कई परिवारों का जीवनयापन करने का स्रोत ही खेती -बाड़ी है।
किन्तु अब खेती में बहुत से खतरे है जैसे सूखा ,बाढ़ ,या कोई भी प्राकृतिक आपदा जिसके वजह से देश के किसानो को बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ता है ।
जबकि बहुत सारे किसान अपनी खेती छोड़ के दूसरे शहरों में पलायन करके कोई नया काम करने की खोज में मजबूरन निकलना पड़ता है। इन सबकी रोक थाम के लिए भारत सरकार ने यह योजना बनाई ताकि किसी भी किसान को मजबूरी में कृषि न छोड़नी पड़े।
इस योजना के तहत भारत सरकार में कृषि और किसान  कल्याण मंत्रालय  ने यह योजना बनाई की अब से सभी किसान अपने फसल का बीमा करवा सकते है। किसी भी तरह के आपदा पर जैसे बाढ़ ,आंधी , सूखा ,तेज बारिश ,इत्यादि से होने वाले नुकसान की भरपाई इस बीमा से करवा सकते है।
इसके तहत किसानो को खरीफ की फसल के लिए 2 फीसदी प्रीमियम और रबी की फसल के लिए 1. 5 फीसदी प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है, और बाकी का प्रीमियम सरकार द्वारा भरा जाता है। ताकि फसल खराब होने पर सरकार को बीमा की पूरी राशि मिल सके।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में कौन कर सकता है आवेदन ? Eligibility

प्रधानमंत्री किसान फसल बीमा  योजना में  सभी किसान अपने फसल का बीमा करवा सकते है। वो सभी किसान जो खेती अपने निजी काम जीवनयापन  के लिए और वाणिज्य यानी अपना फसल बेचने के लिए किसी भी कारण वश खेती करते हो उन सभी को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ मिलेगा। ताकि कोई भी किसान को कम से कम हानि उठानी पड़े और कोई भी किसान को खेती न छोड़नी पड़े।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना उद्देश्य :खेती  को बढ़ावा (Promoting farming)

खेती को बढ़ावा भारत सरकार ने इस योजना में ज्यादा ध्यान इसीलिए केन्द्रित किया है ताकि इस योजना से खेती को बढ़ावा मिले। कई ऐसे कारण है की अब धीरे धीरे सभी किसान अपनी खेती न करके दूसरो कामो के प्रति ज्यादा आकर्षित हो रहे है। कृषि में कई ऐसे अनदेखे खतरे होते है जो कभी भी आ सकते है जिस वजह से किसानो की सभी फसल बर्बाद हो जाती है।
कृषि करने में बहुत बहुत साडी मेहनत और लागत लगती है फलस्वरूप उसके मुकाबले उन्हें उतना फायदा नहीं होता है। इसके विपरीत उन्हें उसका नुकसान उठना पड़ता है। कई ऐसी आपदाएं है जो अचानक से आती है और सभी फसल को बर्बाद कर देती है। और जितनी मेहनत और खर्च उस फसल को उगाने  में लगती है उन सभी का घाटा हो जाता है। जिससे परेशान हो कर कर अधिकतर किसान खेती को छोड़ते जा रहे है।
इस विपदा के निवारण के लिए ही भारत सरकार ने इस योजना का अनावरण किया है ताकि किसी भी किसान को इसका नुकसान न हो और किसान खेती को न छोड़े। अगर भारत सरकार उनकी  फसलों का बीमा  करवा देती है तो सभी किसान चिंता मुक्त होकर कृषि के काम में ही डटे रहेंगे और  उन्हें खेती नहीं छोड़नी पड़ेगी।

फसल बीमा  योजना के लाभ–Benefits of PM Fasal Bima Yojana

  • किसानो को उनके फसल बर्बाद होने पर भी आर्थिक सहयता का भरोसा।
  • किसानो को खेती छोड़ के कुछ और नहीं करना पड़ेगा।
  • कृषि क्षेत्र में लोन को सुनश्चित करवाया जायेगा।
  • किसान कृषि में नए नए अनुसंधान और नई नई पद्धिति को अपना सकेंगे।
  • कृषि में किसान का  आय में कुछ हद तक सतहयित्व आएगा।
  • फसल प्राकृतिक रूप से खराब होने पर सभी किसानो को उनके बीमा  का रुपया मिल जायेगा।
  • केवल 2 % और 1 . 5 %की प्रीमियम किसान तथा बाकी सारा प्रीमियम सरकार द्वारा भुगतान किया जायेगा ,जिससे किसानो पर अधिक बोझ नहीं होगा।
  • किसान द्वारा भुगतान किया जाने वाले दर बहुत ही कम है बाकी का दर सरकार द्वारा भुगतान किया जायेगा।

फसल बीमा  योजना के लाभार्थी-Beneficiaries PM Fasal Bima Yojana

  • देश भर के सभी किसान
  • वाणिज्यिक और बागवानी के लिए खेती करने वाले किसान

फसल बीमा योजना का उद्देश्य क्या है -Objectives of the scheme

PM Fasal Bima Yojana योजना शुरू क्यों की गयी इस योजना के शुरू करने का उद्देश्य क्या है ? यह सवाल सबके मन में  है की ये योजना को बनाई क्यूँ गयी है फसल का बीमा बनाकर क्या होगा ? तो इस भाग में हम जानेंगे की भारत सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा  योजना शुरू करने का आखिर उद्देश्य क्या था ?
  • हमारे देश कई प्राकृतिक आपदाएं आती है वैसे तो इन आपदाओं का भुगतान सभी को करना पड़ता है ,पर किसान पर इसका ख़ासा असर होता है। उनकी सारी  मेहनत बर्बाद हो जाती है उनकी फसल खराब हो जाती है ,जिसमे किसानो का उनकी कमाई का बहुत बड़ा हिस्सा लगा होता है। इस कारण किसानों के फसल का बीमा करवाना बेहद ही जरूरी था। 
  • किसान खेती के बजाय और कोई काम न शुरू करे और उनकी एक निश्चित आय बनी रहे। 
  • फसलों में नई नई अनुसंधान तथा आधुनिक पद्धितियों को अपनाने के लिए प्रेरणा देने के लिए। 
  • किसानो की खेती में ही उनका काम करने के लिए बढ़ावा देने के लिए। 
  • किसी भी प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान की स्तिथि में किसानो को उनकी फसल का बीमा करवा कर उन्हें आर्थिक सहायता देने के लिए। 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन -Application in Prime Minister Crop Insurance Scheme

कई लोगो के मन में यह सवाल उठता है की बीमा  योजना तो आ गयी  हमे करवानी भी है पर इसके लिए आवदेन कहां करे। इन सभी सवालो का जवाब हम इस भाग में जानेंगे। प्रधानमंत्री फसल बीमा  योजना के लिए लाभार्थी किसी भी तरह से आवदेन भर सकते है।
अतः किसानों के लिए  उनके मन के मुताबिक  सरकार ने आवेदन करने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरह से इस योजना के लिए आवेदन करने का विकल्प खोला हुआ है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन-Apply in PM Fasal Bima Yojana

1.ऑनलाइन आवेदन -(Fasal Bima Online apply)

PM Fasal Bima Yojana में सरकार ने ऑनलाइन आवेदन का विकल्प भी खुला रखा है ,ताकि किसी को भी किसी भी कारणवश ऑफलाइन आवेदन भरने में किसी भी तरह की कठिनाई होती है वो ऑनलाइन आवेदन भी कर सकता है। यह सबसे आसान तरीका है घर बैठे ही आवेदन करने का। सरकार ने इसके लिए सरकारी पोर्टल खोली है http://pmfby.gov.in/  पर जाकर आवेदक अपने आवेदन भर सकता है। इसके लिए इस लिंक में मांगी गयी सभी जानकारी सही से भर कर इसके साथ जरूरी दस्तावेजों को स्कैन करवा के जमा कर सकते है। इसमें आवेदन करते वक़्त फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी को ध्यान से भरे और उसमे मांगे गयी सभी दस्तावेजों को उसमे अटैच करना  ने भूले।

2.ऑफलाइन आवेदन – (Fasal Bima Offline apply)

प्रधानमंत्री फसल बीमा  योजना में ऑफलाइन आवेदन  करना सबसे सही तरीका है, इसमें गलती होने की गुंजाईश बहुत ही कम हो जाती है। ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जाकर (फसल बीमा योजना ) का आवेदन पत्र लेकर उसे  भर सकते है।

PMFBY योजना में लगने वाले मुख्य दस्तावेज – Documents

फसल बीमा योजना में लगने वाले मुख्य दस्तावेजों की सूचि
  • किसान की पासपोर्ट के आकर की फोटो
  • किसान का प्रमाणपत्र जैसे आधार कार्ड ,वोटर आई डी कार्ड ,पेन कार्ड ,पासपोर्ट ,लाइसेंस )
  • घर का प्रमाण जैसे बिजली का बिल ,पानी का बिल ,टेलीफोन बिल इत्यादि )
  • खेत का खसरा नंबर और खेत के कागज़
  • अगर दूसरे  के खेत यानि किराये के खेत पर की गयी है खेती तो खेत के मालिक के साथ हुए एग्रीमेंट की कॉपी
  • खेत में फसल की बुआई के सबूत जैसे सरपंच ,प्रधान से लिखवा कर दिखा सकते है
  • बैंक पासबुक की फोटोकॉपी
  • एक चेक

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में बीमा कौन सी संस्थान करेगी ?

जो भी बीमा कंपनी इस योजना के अंदर कार्यान्वित होंगी। उन सभी बीमा कंपनी पर कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के द्वारा किया जायेगा। केंद्र सरकार ने किसी भी बीमा कंपनी को चुनाव करने का फैसला पूर्ण रूप से राज्य सरकार पर छोड़ा हुआ है। पूरे राज्य में कोई एक ही बीमा कंपनी कार्यान्वित होगी।

PMFBY योजना की ख़ास बातें Special features of PM Fasal Bima Yojana

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानो को अपनी फसल के प्रीमियम के रूप में खरीफ फसल के लिए 2% और रबी फसल के लिए केवल 1.5 फीसदी प्रीमियम का भुगतान करना होता है बाकी का प्रीमियम सरकार द्वारा भुगतान किया जाता है।
  • वार्षिक वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के मामले में प्रीमियम केवल 5 फ़ीसदी होगा।
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में फसलों के प्रीमियम के लिए कोई भी सीमा निर्धारित नहीं की गयी है, अतःतय की गयी दरों  को ही केवल किसानो द्वारा भुगतान  किया जायेगा बाकी का सब भारत सरकार भरेगी। 
  • किसानो को अपने फसल का बीमा बुआई करने के दस  भीतर ही करवाना अनिवार्य है। 
  • फसल की कटाई के बाद भी 14 दिन के भीतर किसी भी प्राकृतिक आपदा के कारण अनाज खराब होता है तब भी किसानो को उसकी बीमा की राशि प्रदान की जाएगी। 
  • सरकार को किसानो की फसल का अपडेट  करने के लिए भी सरकार ने एक साइट चलाई है। ताकि किसी भी किसान को अपने खेती के बारे में अपडेट करने में देरी न हो। 
  • ध्यान रखने वाली बात यह है की बीमा का पैसा तभी किसानो को मिलेगा जब उनकी फसल किसी प्राकृतिक आपदा के कारण खराब हुई हो। 
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को एक मात्र कंपनी भारतीय कृषि बीमा कंपनी  द्वारा नियंत्रित किया जाता है। 

वेबसाइट और मोबाइल ऐप-Website & Mobile App

भारत सरकार ने हाल ही में  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए  एक मोबाइल ऐप जारी किया है। ताकि इससे सभी   एजेंसी , प्रशाशन में  समन्वय बना रहे और सभी को इस योजना के बारे में पारदर्शिता बनी रहे , और अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सके। इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए किसी भी एंड्राइड फ़ोन में गूगल प्ले स्टोर में जाकर फसल बीमा ऐप को डाउनलोड कर सकते है
FAQ
1. pradhan mantri fasal bima yojana form pdf

इसके लिए इस link पर क्लिक करें https://pmfby.gov.in/pdf/DigitalDeclarationForm280717.pdf

२. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना टोल फ्री नंबर / whatsapp नंबर / हेल्पलाइन नंबर

सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु इन नम्बरों पर संपर्क करें

फ़ोन नंबर – 01123382012 ,

हेल्पलाइन नंबर – 01123381092

 

Leave a Comment